Save The Buxwaha Forest: Location, Importance and Issue

Save The Buxwaha Forest

Buxwaha Forest

Location: Buxwaha Tehsil and Nagar Panchayat, Chhatapur District, Madhya Pradesh

Google Earth Coordination: 24°24’28″N 79°23’32″E (North East)

Forest Office: 24°15’00″N 79°16’58″E

HEADINGS
(1). Matter of Buxwa Forest
(2). Reasons to Save Buxwaha

(1). Matter of Buxwa Forest

हमारे देश में हीरे के खदान एवं क्षेत्र

  • बूंदेर परियोजना, मध्यप्रदेश।
  • गोलकोंडा परियोजना, तेलंगाना।
  • कोल्लूर माइन, आंध्रप्रदेश।
  • Majhgawan माइन, मध्यप्रदेश।

वर्तमान में इन्हीं जगहों पर हीरे की खुदाई की जाती है। इनमें Majhgawan, Panna, Madhya Pradesh में औद्योगिक स्तर पर हीरे की माइनिंग की जाती है।

इनमें बूंदेर परियोजना Buxwaha जंगल की कटाई से सम्बन्धित है।

According to government estimates, close to 2.15 lakh trees are to be cut down in the forest while the environment experts ad activists claim that the number is much larger.

See Ref. 01

Majhgawan से Buxwaha की दूरी सीधे मापने पर 190 किलो मीटर होती है। अर्थात्  और  के बीच 190 किलोमीटर लंबी जंगल के एक पट्टी है, जिसकी औसत चौड़ाई 15 – 20 किलो मीटर की है।

स्थिति 01. Kollur Mine, Telangana

यह तेलंगाना में स्थिति है।

आसपास कोई बड़ी जंगल नहीं है।

नये खदान की खोज: पहले से खुदाई जारी।

स्थित 02. Golkonda Mine, Andra Pradesh

स्थिति: गोलकुंडा, आंध्रप्रदेश।

आसपास कोई बड़ी जंगल नहीं है।

नये खदान की खोज: पहले से खुदाई जारी।

स्थित 03. Majhgawan Mine, Madhya Pradesh

स्थिति: पन्ना, मध्यप्रदेश।

आसपास कोई बड़ी जंगल: Panna-Buxwaha.

नये खदान की खोज: पहले से खुदाई जारी।

स्थित 04. Bunder Project, Madhya Pradesh

स्थिति: छतरपुर, मध्यप्रदेश।

आसपास कोई बड़ी जंगल: Panna-Buxwaha

नये खदान की खोज: हां, हीरे की नई और बड़े क्षेत्र की खोज हुई है।

हीरे की खदान बक्सवाहा के जंगल के नीचे दबी हुई है। चूंकि पहले से ही Majhgawan में औद्योगिक स्तर पर हीरे की खुदाई होती आ रही है, इसलिए बक्सवाहा जंगल में हीरे की खदानों का पता चलने के बाद एक परियोजना के तौर पर यहां खीरा माइनिंग किया जाना प्रस्तावित है।

और इसके लिए बक्सवाहा जंगल को समुल काटा जाना भी जरूरी है!

लेकिन,,,,

मामला यही है कि ‘हम नहीं चाहते कि वह बक्सवाहा जंगल हो या दुनिया की कोई भी जंगल हो जो सिर्फ औद्योगिकरण के नाम पर काट दिया जाय’।

और मैं क्यों कह रहा हूं कि “Save The Buxwaha’?

इसके कारणों की व्याख्या मैं नीचे कर रहा हूं…..

(2). Reasons to Save Buxwaha

First 01: Covid-19

हम यह मानकर संतोष नहीं कर सकते कि “हमसे 300 (+/-) किलोमीटर दूर स्थित एक वन के कटने से भला हमारा क्या लेना देना?”.
वृक्ष या पेड़-पौधों से कीमती हीरे कभी नहीं हो सकते।

उदाहरण हमारे सामने है। यदि वर्तमान में स्थिति ऐसी है कि ‘आपको ऑक्सीजन सिलेंडर वाले बेड की जरूरत है, लेकिन बदकिस्मती की यह है को कोई भी बेड खाली नहीं है; अब आपके पास हीरे भी हों तो एक सच्चा डॉक्टर आपको वह जगह नहीं दे सकता ‘। लेकिन…..

Example 02: Amazon Rain Forest

अमेजन रेन फॉरेस्ट (Amazon Rain Forest)
दक्षिण अमेरिका महाद्वीप के लगभग पूरे उतरी भाग को घेरे हुए अमेजन फॉरेस्ट का कुल क्षेत्रफल 55,00,000 वर्ग किलो मीटर है, वहीं हमारे देश का कुल क्षेत्रफल 32,87,263 वर्ग किलो मीटर है।

इस तरह यह वन हमारे देश के कुल क्षेत्रफल के 1.5 गुना से भी ज्यादा है। यह पृथ्वी का प्रमुख ecosystem है। पृथ्वी की जलवायु, विशेषकर ग्लोबल वार्मिंग को नियंत्रित करने में यह महत्वूर्ण भूमिका निभाती है।

अगर यह जंगल काट कर नष्ट कर दी जाए तो पूरी दुनिया के पारिस्थितिक तंत्र पर इसके बुरा प्रभाव पड़ेगा। ग्लोबल वार्मिंग की वजह से पृथ्वी का तापमान लगातार बढ़ेगा, ध्रुवीय बर्फ पिघलेंगे, समुद्र का स्तर बढ़ जाएगा और जिससे समुद्र तटीय छोटे और बड़े शहर जैसे मुंबई और द्वारिका डूब जायेंगे।

Converting carbon dioxide into oxygen and biomass. A full-grown tree produces about 100 kg of net oxygen per year

See Ref. 02 (Wikipedia-forest)

Example 03: Desert of That (The Great Indian Desert)

थार का मरुस्थल 2 लाख वर्ग किलो मीटर के क्षेत्र में फैली हुई है। इसका अधिकांश हिस्सा भारत के राजस्थान राज्य में आता। यह भारत में एक ऐसा राज्य है जहाँ के लोग बर्षभर वर्षा और जल के लिए तरसते रहते हैं। चारों ओर मरु भूमि पाई जाती है जो दिन भर उच्च तापमान से तपती रहती है। इसका मुख्य कारण वहाँ बड़े जंगलों के न होना ही है।

वृक्ष ही जीवन है

यह मेरे या आपके अकेले की बात नहीं है, पूरे देश की बात है।

Forest, complex ecological system in which trees are the dominant life-form.

See Ref. 03

जब एक मत रखने वाले लोगों के समूह से राज्य और देश में नई सरकार आ जाती है, तो फिर एक विचार और लक्ष्य को समर्थन करने से Buxwaha क्यों नहीं बचेगा!?

So, “Save The Buxwaha!”, and also Pure Water.


References:

01. Vivek Trivedi. NGT Stays Felling of Trees in MP’s Buxwaha Forest Amid Public Uproar. July 02, 2021. NEWS18.

02. Luis Villazon. “How many trees does it take to produce oxygen for one person?”. Science Focus.

03. The Editors of Encyclopaedia Britannica. Forest | Definition, Types, & Facts | Britannica.


Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *